मंदिर में घी गिरना क्यों माना जाता है अशुभ? जानें दुष्प्रभाव से कैसे बचें

0
577
मंदिर में घी गिरना
मंदिर में घी गिरने का मतलब

मंदिर में घी गिरना अशुभ माना जाता है। कई बार ऐसा होता है कि घर के रसोई में काम करते वक्त गलती से तेल या घी गिर जाता है। ऐसा माना जाता है कि घर हो या मंदिर, गलती से भी घी का गिरना अशुभ माना जाता है। मंदिर में घी का गिरना इस बात का संकेत होता है कि जीवन में अशुभता आने वाली है।

दुष्प्रभाव से कैसे बचें

वैसे तो घरों में ज्यादातर सरसों तेल का ही इस्तेमाल होता है। कई लोग घर के मंदिर में पूजा करने के लिए सरसों तेल का इस्तेमाल करते हैं। हिंदू धर्म में सभी प्रकार के धार्मिक कार्यों में सरसों तेल और घी का प्रयोग किया जाता है।

सरसों तेल का प्रयोग हमलोग खाना बनाने में भी करते हैं। हालांकि कुछ खास पकवान बनाने में घी का इस्तेमाल भी किया जाता है। सेवई बनाने में, पूरी (ठेकुआ) बनाने में, पराठा इत्यादि में घी का इस्तेमाल किया जाता है।

जहां तक सरसों तेल का बात है तो जान लें कि सरसों तेल का भगवान शनिदेव को अत्यंत प्रिय है। तेल को शनिग्रह का प्रतीक माना जाता है। इसलिए यदि गलती से भी फर्श पर तेल गिर जाए तो जीवन में कई प्रकार की समस्याएं आनी लगती है। धनहानि होने से जीवन में क्लेश और घर में अशांति बढ़ने लगती है।

मंदिर में घी गिरने के दुष्प्रभाव

घी को भगवान बृहस्पति का प्रतीक माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि मंदिर में घी का गिरना धर्म की हानि का संकेत है। इससे आपके जीवन में धर्म की हानि होगी और परिवार में वाद-विवाद शुरू हो जाता है। पढ़ें – घर में मंदिर की स्थापना किस दिन करनी चाहिए? जानें

दुष्प्रभाव से कैसे बचें

यदि मंदिर में पूजा करते वक्त गलती से घी गिर जाए तो उसे उठाकर उसी बर्तन में नहीं रखें, जिससे वह गिरा हो। मंदिर में गिरे हुए घी या तेल का इस्तेमाल दोबारा नहीं करना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि गिरे हुए घी का दोबारा इस्तेमाल करने से कार्यों में रुकावट आती है।

यदि घी का दीपक मंदिर में जला रहे हैं और गलती से घी गिर जाए तो उसको दोबारा इस्तेमाल नहीं करें। ऐसा माना जाता है कि उस घी का इस्तेमाल दोबारा करने से घर में दरिद्रता और जीवन में गरीबी आती है। यदि घी गिर जाए तो उसे रोटी में मिलाकर किसी जानवर को खिला देना चाहिए। इससे आपके ऊपर का दोष खत्म हो जाता है और आपके ऊपर तथा परिवार के किसी सदस्यों के ऊपर कोई दुष्प्रभाव नहीं पड़ता है।