सरसों के तेल का दीपक जलाने के फायदे क्या होते हैं? कब जलाना चाहिए दीपक

0
960
सरसों तेल का दीपक जलाने के फायदे
सरसों तेल का दीपक जलाने के फायदे

सरसों के तेल का दीपक जलाने के फायदे क्या होते हैं? पूजा के समय दीपक जलाने का बहुत अधिक महत्व होता है। दीपक के बिना पूजा को अधूरा माना जाता है। दीपक की ज्योति से समस्त पाप नष्ट हो जाते हैं और जीवन में सुख-समृद्धि, आयु और जीवन में सकारात्मक परिस्थियों में वृद्धि होती है। आइए जानते हैं कि तेल का दीपक जलाने के क्या-क्या फायदे होते हैं?

कई लोग घी का दीपक जलाने के समर्थ नहीं होते हैं। ऐसे में लोग अपने घरों में सरसों तेल का दीपक जलाते हैं। सरसों का उपयोग जैसा कि हम सभी जानते हैं कि खाने में भी किया जाता है। यह हमारे शरीर के लिए बहुत उपयोगी और लाभदायक होता है। सरसों का महत्व भारत में प्राचीन समय से ही रहा है।

किसी भी प्रकार के शुभकार्य में तेल का दीपक हमारे घरों में जरूर जलाया जाता है। बिना सरसों तेल के दीपक के पूजा को अधूरा माना जाता है। घर में ज्यादातर लोग जो सुबह-शाम पूजा करते हैं, सरसों तेल का दीपक जरूर जलाते हैं। माना जाता है कि सरसों के तेल का दीपक जलाने से घर का वातावरण शुद्ध हो जाता है। पूजा घर में दीपक जलाने से ईश्वर की कृपा प्राप्त होती है।

तेल का दीपक जलाने के फायदे

सरसों तेल का दीपक घर में जलाने से जीवाणु इत्यादि खत्म हो जाते हैं। इस बात की पुष्टि वैज्ञानिक शोध में भी हुई है कि सरसों तेल के दीपक से निकलने वाली काली धुआं से हानिकारक जीवाणु नष्ट हो जाते हैं।

घर के मंदिर में एक मुखी दीपक रोजाना जलाने से घर में हमेशा सुख-समृद्धि बनी रहती है। हिंदू धर्म के अनुसार, जिस घर में प्रतिदिन तेल का दीपक जलाया जाता है, उस घर में भगवान शनिदेव की कृपादृष्टि बनी रहती है। इससे घर में बरकत रहती है और शनिदोष नहीं होता है या उसका प्रभाव कम या समाप्त हो जाता है।

माँ भगवती दुर्गा के सामने घी का दीपक और सरसों तेल का दीपक दोनों जलाया जाता है। घर में समस्याओं को खत्म करने के लिए तेल की दीपक जलाया जाता है। इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि तेल का दीपक भगवान बाएं तरफ जलाना चाहिए और घी का दीपक भगवान के हाथ के दाएं तरफ जलाना शुभ होता है।

घर के मंदिर में रोजाना दीपक जलाने से घर में हमेशा सकारात्मक वातावरण बना रहता है। यदि आप समस्याओं से परेशान हो चुके हैं तो ईश्वर की सुबह-शाम अराधना अवश्य करें। इससे जीवन में तरक्की के योग बनेंगे और घर में सुख-शांति रहेगी। दीपक जलाने से जीवन में कष्ट कम होते हैं। ईश्वर के प्रतिमा के सामने दीपक जलाने से पुण्य फल की प्राप्ति होती है।

कई बार ऐसा होता है कि जो लोग सुबह-शाम दीपक जलाते हैं और ईश्वर की अराधना करते हैं, उनको ईश्वर संकेत भी देते हैं। शास्त्रों के अनुसार, दीपक ईश्वर के प्रिय होने के साथ-साथ यह मनुष्य के लिए भी बहुत अधिक महत्वपूर्ण होता है। दीपक जलाने से मनुष्य की आयु में वृद्धि होती है। जिस प्रकार दीपक अंधेरे को खत्म कर उजाला फैलाने का काम करता हैं, उसी प्रकार रोजाना दीपक जलाने के व्यक्ति के जीवन में भी उजाला होती है। जिस घर में दीपक जलाया जाता है वहां पर से नकारात्मक शक्ति खत्म हो जाती है।