मंदिर में माचिस क्यों नहीं रखनी चाहिए, पूजा घर में कितनी फोटो रखनी चाहिए?

अपने पूजा घर में कभी भी किसी उग्र देवी-देवता की तस्वीर या प्रतिमा नहीं रखना चाहिए। घर के मंदिर में उग्र देवी-देवता को रखने से घर में कई समस्याओं को जन्म होने लगता है।

0
2341
मंदिर में माचिस क्यों नहीं रखनी चाहिए
मंदिर में माचिस क्यों नहीं रखनी चाहिए

घर के मंदिर में माचिस रखना चाहिए या नहीं, यह सवाल जरूर सभी के मन में आता है। पूजा के वक्त दीपक जलाने के माचिस का इस्तेमाल होता है। लोग उस माचिस को मंदिर में रखते हैं। लेकिन क्या घर के मंदिर में माचिस रखना चाहिए? आइए जानते हैं कि क्या होता है मंदिर में माचिस रखने से-

हिंदी वास्तु के हिसाब से घर के मंदिर से जुड़ी बातों में यह बहुत ही खास बात है जिसे ध्यान में रखने की जरूरत है। मंदिर में पूजा करने के बाद माचिस की तीली को वहीं पर नहीं फेकना चाहिए। इसके साथ ही मंदिर में सूखा हुआ फूल या मुरझाया हुआ पूल तथा जली हुई रुई को भी हटा देना चाहिए।

अपने पूजा घर को हमेशा ही साफ रखना चाहिए। पूजा घर में बिखरी हुई माचिस की तीली नहीं रखनी चाहिए। इसे डस्टबिन में डाल देना चाहिए। इसे अपने मंदिर के आसपास भी कहीं नहीं फेकना चाहिए। इसके अलावा पूजा स्थल पर भी माचिस नहीं रखनी चाहिए। इससे आपके घर में नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश करती है।

यदि आपके पास कोई विकल्प नहीं है तो पूजा घर में माचिस को रखना अनिवार्य है तो उसे किसी काजग में लपेट कर रखें। आप चाहें तो माचिस या तीली को साफ कपड़े में भी लपेट कर रख सकते हैं। पूजा घर के बाहर आप कहीं भी माचिस रख सकते हैं।

पूजा घर में सूखे हुए फूल-पत्ति को भी नहीं रखना चाहिए। इससे घर में नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश करती है। अगर आपके मंदिर में भी सूखे फूल पड़े हुए हैं तो उसे तुरंत ही हटा दें। अपने घर के मंदिर को जितना अधिक साफ रखेंगे, उतना ही आपके घर में सकारात्मक ऊर्जा का वास होगा और देवी-देवता आपके प्रसन्न रहेंगे। इससे घर में हमेशा सुख-शांति बनी रहेगी।

पूजा घर में क्या-क्या नहीं रखना चाहिए

पूजा घर में पुराने फल, फूल, माला और अगरबत्ती नहीं रखना चाहिए। इसके अलावा अगरबत्ती की राख को भी जितनी जल्दी हो सके मंदिर से हटा देना चाहिए। इन सभी चीजों को रखने से घर में नकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। पढ़ें- पूजा घर में किस तरह की मूर्तियाँ होती हैं शुभ, जानें कौन सी मूर्ति रखनी चाहिए?

अपने पूजा घर में कभी भी किसी उग्र देवी-देवता की तस्वीर या प्रतिमा नहीं रखना चाहिए। घर के मंदिर में उग्र देवी-देवता को रखने से घर में कई समस्याओं को जन्म होने लगता है। घर में हमेशा सौम्य और मुस्कुराते हुए देवी-देवता के ही तस्वीर और फोटो रखनी चाहिए।

मंदिर में या पूजा घर में किसी भी देवता की एक से अधिक तस्वीर या प्रतिमा नहीं रखना चाहिए। हाँ आप चाहें तो अलग-अलग देवी-देवता के अलग-अलग तस्वीर को रख सकते हैं, लेकिन एक देवता का दो फोटो या प्रतिमा कभी भी घर में नहीं रखना चाहिए।

इसके अलावा रसोई घर में भी मंदिर नहीं बनाना चाहिए। रसोई घर में कई प्रकार का खाना बनाते हैं। ऐसा माना जाता है कि रसोई घर में मंदिर होने से घर के किसी सदस्य को रक्त से संबंधित बीमारी हो सकती है। इसलिए कभी भी मंदिर को रसोईघर में नहीं बनवाना चाहिए।